Indiaherald Group of Publishers P LIMITED

X
close save
crop image
x
Tue, Aug 20, 2019 | Last Updated 3:04 pm IST

Menu &Sections

Search

झारखंड में ड्रोन का सहारा ले रहे हैं नक्सली

झारखंड में ड्रोन का सहारा ले रहे हैं नक्सली
झारखंड में ड्रोन का सहारा ले रहे हैं नक्सली
http://apherald-nkywabj.stackpathdns.com/images/appleiconAPH72x72.png apherald.com

झारखंड में नक्सलियों ने ड्रोन को अपना नया हथियार बना लिया है। इसके जरिये वे सुरक्षा बलों की गतिविधियों पर नजर रखने के साथ-साथ हमले की साजिश भी रच रहे हैं। पुलिस की विशेष शाखा ने इसका खुलासा करते हुए नक्सल प्रभावित जिलों के एसपी को पत्र लिखकर आगाह किया है।


अपने पत्र में विशेष शाखा ने लिखा है कि नक्सली अब ड्रोन तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे इसके माध्यम से पुलिस व अन्य सुरक्षा बलों के मूवमेंट और उनके कैंपों पर नजर रख रहे हैं। रिपोर्ट के मुताबिक नक्सलियों ने नेत्रा पर भी हमले की योजना बनायी है। नेत्रा पुलिस और सीआरपीएफ का ड्रोन है जिसका इस्तेमाल नक्सलियों की रेकी और उनकी मौजूदगी की जानकारी के लिए किया जाता है। 


वायरलेस भी होता है ट्रेस : नक्सल विरोधी अभियान का नेतृत्व करने वाले सुरक्षाबलों के अधिकारियों को यह भी ताकीद की गई है कि वे वायरलेस का सतर्कतापूर्वक इस्तेमाल करें। कहा गया है कि झारखंड पुलिस अभियान में मैनुअल वायरलेस सिस्टम का इस्तेमाल करती है। ऐसे में प्रभावित इलाकों में नक्सली वायरलेस की फ्रिक्वैसी मिलाकर सुरक्षाबलों की गोपनीय बातचीत सुन सकते हैं और उसी अनुसार योजना बनाकर किसी घटना को अंजाम दे सकते हैं। इसलिए नक्सल विरोधी अभियान के दौरान संबंधित अधिकारी वायरलेस पर अगले पोस्ट को सूचना न दें। अभियान के दौरान वायरलेस सेट पर होने वाली बातचीत और सिग्नल को गोपनीय रखें।अभियान के पहले वायरलेस पर सूचना फ्लैश नहीं करें। 


बाजार में उपलब्ध हैं ड्रोन

भारतीय बाजार में ड्रोन कैमरे 2000 से डेढ़ लाख रुपए में आसानी से उपलब्ध हैं। तमाम ई-कॉमर्स कंपनियां भी इन्हें ऑनलाइन बेच रही हैं। झारखंड में एक दिसंबर 2018 से ड्रोन के इस्तेमाल की नियमावली लागू है। इसके मुताबिक, राजभवन, मुख्यमंत्री आवास, विधानसभा, मिलिट्री कैंप आदि जगहों पर ड्रोन का इस्तेमाल नहीं हो सकता। 



1- नक्सलियों ने सुरक्षा के लिए भी निर्देश जारी किए हैं। संगठन में छुट्टी लेकर घर जाने वाले कैडरों को हथियार साथ ले जाने की मनाही है। दस्ता में रहते हुए कैडरों के मोबाइल के इस्तेमाल पर रोक है। 

2- नारी मुक्ति संघ, क्रांतिकारी किसान कमेटी के जरिए युवाओं व महिलाओं को संगठन से जोड़ा जा रहा है। सरायकेला में कारतूस की व्यवस्था की जिम्मेदारी पतिराम मांझी को दी गई है। 

3- पुलिस मुख्यालय को मिली सूचना के अनुसार माओवादी संगठन को फिर से मजबूत करने में जुटे हैं। कई जिलों में नए कैडर बनाए गए हैं। लेकिन इनके पास हथियार नहीं हैं। नए सदस्यों के हथियार की व्यवस्था के लिए मोटरसाइकिल दस्ता बनाया गया है, जो हाट बाजार या भीड़-भाड़ वाले इलाके में पुलिस पर हमला कर हथियार लूट की घटना को अंजाम दे सकता है। 



Naxalites use drones as weapons in jharkhand
5/ 5 - (1 votes)
Add To Favourite
More from author
लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर अरुण जेटली, हालत बेहद नाजुक
अरबाज खान की कथित गर्लफ्रेंड जॉर्जिया इस फिल्म से करेंगी बॉलीवुड डेब्यू
'करण जौहर: द गे' फिल्म बनाने के कमेंट पर करण जौहर की प्रतिक्रिया
गूगल में भिखारी सर्च करने पर नजर आ रहे हैं पाक पीएम, जानें इसकी वजह
इन लोगों की खुलेगी पोल, अब झारखंड ट्रैफिक पुलिस ने भी उठाया ये कदम
दिल्ली के AIIMS में लगी भीषण आग
दीपिका ने रणवीर को बुलाया 'डैडी', क्या ये कपल जल्द देने वाले हैं गुडन्यूज़ ?
सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने इस वजह से लगाया मीका पर बैन
अनुराग बासु की इस फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू करेंगी आशा नेगी
तो अपनी प्रेग्नेंसी की अफवाहों पर ये बोलीं विद्या
महिला ने गूगल पर कुछ ऐसा सर्च किया कि कुछ सेकंड में पूरा खली हो गया उसका बैंक अकाउंट
पाकिस्तान के 36 सड़कों और 5 पार्कों का नाम होगा 'कश्मीर'
श्वेता तिवारी की निजी जिंदगी में चल रही है उथल-पुथल, अब पति ने ये कहा
संजय दत्त स्टारर फिल्म 'प्रस्थानम' का फर्स्ट पोस्टर रिलीज़
पापा सैफ के बर्थडे पर सारा का स्पेशल पोस्ट, क्या आपने पढ़ा ?
अपडेट: वेंटिलेटर पर हैं पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, हालत है नाजुक
तो क्या रिलीज के कुछ देर बाद ही ऑनलाइन लीक हो गई सैक्रेड गेम्स 2 ?
बौखलाए पाकिस्तान ने अब इन भारतीय चीज़ों पर लगाया बैन
कमांडो फ्रेंचाइजी के तीसरे पार्ट की रिलीज़ डेट में हुआ बदलाव
चीन ने चली चाल, UNSC आज इतने बजे कश्मीर पर बंद-दरवाजा करेगी बैठक
RBI ने बदले ATM से जुड़े नियम, क्या आप हैं इससे वाकिफ ?
About the author

Bharath has been the knowledge focal point for the world, As Darvin evolution formula End is the Start ... Bharath again will be the Knowledge Focal Point to the whole world. Want to hold the lamp and shine light on the path of greatness for our country Bharath.