Indiaherald Group of Publishers P LIMITED

X
close save
crop image
x
Sat, Oct 19, 2019 | Last Updated 10:33 pm IST

Menu &Sections

Search

दुर्गा अष्टमी और महानवमी कब है? जानें तिथि और हवन का शुभ मुहूर्त

दुर्गा अष्टमी और महानवमी कब है? जानें तिथि और हवन का शुभ मुहूर्त
दुर्गा अष्टमी और महानवमी कब है? जानें तिथि और हवन का शुभ मुहूर्त
http://apherald-nkywabj.stackpathdns.com/images/appleiconAPH72x72.png apherald.com
नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ स्वरुपों की आराधना की जाती है। प्रत्येक दिन मां के अलग-अलग स्वरूप की विधि-विधान से पूजा की जाती है। हर दिन मां को उनके खास फूल और भोग अर्पित किए जाते हैं और हर दिन विशेष रंग के कपड़े पहने जाते हैं। शारदीय नवरात्रि के दौरान माता के स्वागत के लिए पंडाल सजाए जाते हैं और धूमधाम से दुर्गा पूजा का आयोजन किया जाता है। दुर्गा उत्सव को बुराई पर अच्छाई की जीत का पर्व कहा जाता है। मान्यता है कि देवी दुर्गा ने बुराई के प्रतीक महिषासुर का संहार उस पर कर विजय प्राप्त की थी, इसलिए इस पर्व को बहुत धूमधाम से मनाया जाता है।

वैसे तो नवरात्रि का हर एक दिन मां दुर्गा को समर्पित होता है, लेकिन नवरात्रि के दौरान सप्तमी, अष्टमी और नवमी का विशेष महत्व बताया जाता है। सप्तमी, अष्टमी और नवमी के दिन पंडालों में माता की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। अष्टमी और नवमी  तिथि पर कन्याओं को भोजन कराया जाता है और हवन किया जाता है, तब जाकर यह व्रत पूर्ण होता है। शारदीय नवरात्रि में महाअष्टमी और महानवमी कब पड़ रही है चलिए जानते हैं।


महाअष्टमी का शुभ मुहूर्त-
महाअष्टमी प्रारंभ- 5 अक्टूबर सुबह 09.53 बजे से,
महाअष्टमी समाप्त- 6 अक्टूबर सुबह 10.56 बजे तक.


दुर्गाअष्टमी व्रत
महाअष्टमी की उदया तिथि 6 अक्टूबर को पड़ रही है, इसलिए महाअष्टमी का व्रत 6 अक्टूबर को रखा जाएगा। महाअष्टमी तिथि पर देवी के आठवें स्वरूप मां महागौरी की पूजा की जाती है। इस दिन देवी मां को नारियल का भोग लगाया जाता है। नवरात्रि में चढ़ती-उतरती व्रत रखने वाले अष्टमी तिथि पर कन्या पूजन करते हैं।


महानवमी का शुभ मुहुर्त-
महानवमी प्रारंभ- 6 अक्टूबर सुबह 10.56 बजे से,
महानवमी समाप्त- 7 अक्टूबर सुबह 12. 40 बजे तक।


दुर्गा नवमी व्रत-
महानवमी की उदया तिथि 7 अक्टूबर 2019 को पड़ रही है, इसलिए इस दिन महानवमी का व्रत रखा जाएगा। इस दिन देवी के नौवें स्वरूप मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। नौ दिनों तक व्रत रखने वाले इस दिन कन्या पूजन करते हैं और नवमी हवन के साथ व्रत का पारण किया जाता है। इस दिन मां सिद्धिदात्री को तिल, अनार, हलवा-पूरी और चने का भोग लगाया जाता है।


हवन का शुभ मुहूर्त-
7 अक्टूबर 2019- सुबह 6.22 बजे से 12.37 बजे तक

गौरतलब है कि नवरात्रि की अष्टमी तिथि को महाअष्टमी कहा जाता है और नवमी तिथि को महानवमी। इन दोनों तिथियों पर कन्या पूजन का विधान है। नवरात्रि में चढ़ती-उतरती व्रत रखने वाले अष्टमी तिथि को कन्या पूजन करते हैं, जबकि पूरे नौ दिन तक व्रत रखने वाले नवमी के दिन कन्या पूजन करते हैं। इस बार शारदीय नवरात्रि 29 सितंबर से शुरु हुई है और 8 अक्टूबर को विजयादशमी पर देवी दुर्गा की प्रतिमाओं को विसर्जन करने के साथ इस पर्व का समापन होगा।


When is Durga Ashtami and Mahanavami? Know the auspicious time of date and havan
5/ 5 - (1 votes)
Add To Favourite
More from author
'घर की बहु' को लेकर अमिताभ ने किया ट्वीट, जमकर हो रही तारीफ
HC की तेलंगाना सरकार को फटकार, 3 दिन के भीतर हल निकालने का आदेश
'तुम ही आना' और 'एक तो कम जिंदगानी' जैसे हिट सॉन्ग के बाद 'थोड़ी जगह' सॉन्ग रिलीज
महानायक अमिताभ बच्चन अस्पताल से हुए डिस्चार्ज, पिछले 4 दिनों से थे भर्ती
CRPF जवानों को जल्द मिल सकता है बड़ा दिवाली गिफ्ट, गृह मंत्री ने उठाया ये अहम कदम
क्या कभी आपने सुना ऐसा जुर्माना जिसमें अगर शराब पी तो पूरे गाँव को खिलाना पड़ेगा मटन
इंडियन आइइडल ऑडिशन में इस कंटेस्टेंट ने किया नेहा कक्कड़ को जबरन किस
10 कॉस्मेटिक्स आपके पैसे बचा सकते हैं...
नुसरत जहां से लेकर प्रियंका चोपड़ा तक, बॉलीवुड स्टार्स ने कुछ यूं मनाया Karva Chauth
अस्पताल में भर्ती हुए सदी के महानायक अमिताभ बच्चन
चुनाव प्रचार का अंतिम दिन आज, कांग्रेस और भाजपा झोंकेगे पूरी ताकत
मुंबई में चोरी हुआ 73 करोड़ रुपये का पानी, जानिए पूरा मामला
त्‍योहारों पर पैरों में लगाती हों आलता तो देख लें लेटेस्‍ट डिजाइन
संजय लीला भंसाली ने आलिया भट्ट के साथ लॉक की अगली फिल्म
आम्रपाली दुबे, मोनालिसा, रानी चटर्जी पर फिल्माए गए करवा चौथ के फिल्मी गीत और गाने, देखें वीडियो
TSRTC के GM पद पर नियुक्त होंगे IPS अधिकारी : केसीआर
वाहनों के नंबर प्लेट पर चमकीला टेप लगाना होगा जरूरी, वरना...
आईएमएफ ने दिया मोदी सरकार को झटका, आर्थिक वृद्धि दर 2019 में घटकर 6.1 प्रतिशत रहने का अनुमान
खूब चढ़ेगा का रंग जब करवाचौथ पर सजना के नाम की मेहंदी में मिलाएंगी ये चीज़ें
करवाचौथ पर भूलकर भी ना पहने यह रंग वरना...
सिद्धार्थ शुक्ला ने इस कंटेस्टेंट को कहा कमीनी, हो रहे हैं ट्रोल
दीवाली से पहले पीएफ खाताधारकों के लिए बड़ी खुशखबरी...
बॉलीवुड की 'ड्रीम गर्ल' हेमा मालिनी की जिंदगी से जुड़े ये अनसुने किस्से जिसे जानकर रह जाएंगा दंग
जब हमारे देश की ताकत बढ़ती है, तो कांग्रेस परेशान हो जाती है : पीएम मोदी
ये रिश्ता क्या कहलाता है फेम मोहिना कुमारी सिंह ने लिए सात फेरे
इनकी हिम्मत के आगे हारी लाचारी, बनीं देश की पहली नेत्रहीन IAS अफसर
TSRTC Strike : कर्मचारी यूनियनों का सरकार की नीति से कोई संबंध नहीं - केशव राव
आलिया भट्ट को अपनी भाभी बनाने पर करीना ने कहा- 'मैं दुनिया की...'
FATF में अलग-थलग पड़ा PAK, 'डार्क ग्रे' सूची डाला जा सकता है उसका नाम
About the author

Bharath has been the knowledge focal point for the world, As Darvin evolution formula End is the Start ... Bharath again will be the Knowledge Focal Point to the whole world. Want to hold the lamp and shine light on the path of greatness for our country Bharath.