Indiaherald Group of Publishers P LIMITED

X
close save
crop image
x
Sat, Oct 19, 2019 | Last Updated 1:12 am IST

Menu &Sections

Search

बंगाल में महिलाएं विजया दशमी के दिन क्यों खेलती हैं सिंदूर खेला, छिपा है ये बड़ा कारण

बंगाल में महिलाएं विजया दशमी के दिन क्यों खेलती हैं सिंदूर खेला, छिपा है ये बड़ा कारण
बंगाल में महिलाएं विजया दशमी के दिन क्यों खेलती हैं सिंदूर खेला, छिपा है ये बड़ा कारण
http://apherald-nkywabj.stackpathdns.com/images/appleiconAPH72x72.png apherald.com
हमारे देश में हिन्दू प्रधान लोग ज्यादा हैं और ऐसे में हिन्दू धर्म को मानने वाले लोगों के लिए नवरात्रि प्रमुख त्योहारों में से एक है, इसे दुर्गा पूजा के नाम से भी जाना जाता हैं। नवरात्रि के नौ दिनों तक माँ दुर्गा के नौ स्वरूपों की पूजा अलग-अलग दिनों में की जाती हैं, ऐसा माना जाता हैं कि माँ की पूजा करने से घर में सुख-शांति का वास होता हैं। इसलिए लोग नवरात्रि के दिनों में माँ की मूर्ति स्थापित कर पूजा-अर्चना करते हैं। इतना ही नहीं जगह-जगह पर पूजा पंडाल बनाकर माँ की बड़ी-बड़ी मूर्तियाँ स्थापित की जाती हैं और फिर दशमी के दिन उनका विसर्जन किया जाता हैं। ऐसे में आइए बंगाल में खेले जाने वाले सिंदूर खेले के बारे में जानते हैं।


Why women play sindoor in Vijaya Dashami in Bengal, this is a big reason


सुहागिन महिलाएं माँ दुर्गा को सिंदूर लगाती हैं
शास्त्रों में नवरात्रि के बारे में कुछ नियम बताए गए हैं, जिनका पालन करना आवश्यक माना जाता हैं क्योंकि ऐसा माना जाता है कि यदि आप उन नियमों का पालन नहीं करते हैं तो आपको इसका सजा भुगतना पड़ सकता हैं| इसलिए इन मान्यताओं के हिसाब से माँ की पूजा-अर्चना करते हैं ताकि उनके घर की सुख-शांति सदैव बरकरार रहे। दरअसल भारत के बंगाल राज्य में नवरात्रि बड़े ही धूम-धाम से मनाया जाता हैं और नवरात्रि के दशमी तिथि को सुहागिन महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाती हैं, जिसे सिंदूर खेला कहा जाता हैं। बंगाल में यह प्रथा काफी लंबे समय से चली आ रही हैं और आज भी लोग इस खेलें को बड़े ज़ोर-शोर से खेलते हैं।


सिंदूर महिलाओं के सुहाग की निशानी मानी जाती हैं
ऐसी मान्यता हैं कि माँ दुर्गा साल में एक बार अपने मायके पाँच दिनों के लिए आती हैं और इसी दिन को दुर्गा पूजा के रूप में मनाया जाता हैं। इतना ही नहीं ऐसा भी कहा जाता हैं कि जब माँ मायके से अपने ससुराल के लिए जाती हैं तो उनका मांग सिंदूर से भरा जाता हैं, साथ में माँ को पान और मिठाई भी खिलाई जाती हैं। सिंदूर का हिन्दू धर्म में बहुत महत्व हैं, यह सुहागिन महिलाओं के सुहाग का प्रतीक माना जाता हैं और सिंदूर ही माँ दुर्गा के शादीशुदा होने का प्रतीक माना जाता हैं, इसलिए बंगाल में सुहागिन महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाकर यह खेल खेलती हैं।


Why women play sindoor in Vijaya Dashami in Bengal, this is a big reason


सुहाग की कामना
ऐसी भी मान्यता हैं कि नवरात्रि की दशमी तिथि को सुहागिन महिलाएं मूर्ति विसर्जन के समय सुहाग और खुशहाली के लिए एक-दूसरे को सिंदूर लगाती हैं। इसके साथ भी ऐसा कहा जाता हैं कि इस दिन विवाहित महिलाएं एक-दूसरे को सिंदूर लगाकर माँ दुर्गा के फेयरवेल के रूप में मनाती हैं।
Why women play sindoor in Vijaya Dashami in Bengal, this is a big reason
5/ 5 - (1 votes)
Add To Favourite
More from author
कल से शुरू होगा भारत-दक्षिण अफ्रीका तीसरा टेस्ट, 5वीं बार 3-0 से सीरीज जीतना चाहेगी टीम इंडिया
Bigg Boss 13: लड़कों को खुद को बचाने का मिलेगा एक और मौका मगर चुकानी पड़ेगी बड़ी कीमत
वोट मांगने निकले थे सीएम नीतीश कुमार, लड़कियों ने काला फीता दिखाकर किया विरोध
डेनमार्क ओपन में खत्म हुई भारतीय चुनौती, एक दिन में 3 भारतीय खिलाड़ी सिंधु, प्रणीत और समीर हारे
300 से अधिक भारतीय मेक्सिको से आए वापस, बताया- एजेंट ने जंगल में छोड़ दिया था
Dhanteras 2019: जानें किस दिन की जाएगी धनतेरस पूजा, क्या है शुभ तिथि व मुहूर्त
OMG : टूट गया सारा अली और कार्तिक आर्यन का रिश्ता, इस वजह से हुआ Breakup!
ऑफ वाइट साड़ी में भी फैंस को मौनी रॉय लगी बेहद हॉट, देखें तस्वीरें
धक्-धक् गर्ल को 'किस' करके चर्चा में आया था ये अभिनेता, तब्बू-सुष्मिता को डेट करने के बाद खूबसूरत NRI से की शादी
सैफीना की शादी के सात साल हुए पूरे, तैमूर को गोद में लेकर सैफ और करीना ने काटा केक
अध्यक्ष बनते ही फॉर्म में आये गांगुली,कहा आईसीसी टूर्नामेंट जीतने पर ध्यान लगाएं कोहली
अब ट्रेनों में भी होगा भारतीय सिनेमा का प्रचार, पीयूष गोयल ने फिल्म निर्माताओं को दिया आमंत्रण
गलती से भी करवा चौथ के दिन ना करें ये काम, अन्यथा पति हो जाएगा बर्बाद
शादी के इतने वर्षों बाद महेश बाबू ने खोला बड़ा राज, बताई 4 साल बड़ी अभिनेत्री से शादी करने की वजह
बिकिनी में सिजलिंग फोटोशूट कराकर डेमी रोज ने इंटरनेट पर लगायी आग
अपनी आगामी फिल्म के प्रमोशन के दौरान तापसी-भूमि ने अपने स्टनिंग लुक से बनाया फैंस को दीवाना
जारी हुई ग्लोबल हंगर इंडेक्स लिस्ट, सूची में नेपाल और पाकिस्तान से भी पीछे भारत 102वें स्थान पर
इस करवाचौथ में इस खास विधि से करें पति एवं चन्द्र पूजन, जानिए पूजा के बाद क्या करें दिया का ?
88वें मिनट में गोल कर आदिल खान ने बांग्लादेश के खिलाफ मैच कराया ड्रॉ
सुनवाई के आखरी दिन के बीच अयोध्या में हाई अलर्ट, पीएसी की 47 कंपनियां तैनात, 200 और बुलाई गयीं
राम जन्मभूमि मामले पर सीजेआई ने याद दिलाते हुए कहा, कल सुनवाई का आखिरी दिन है
कभी टीवी सीरियल से हुई थीं मशहूर यह एक्ट्रेस, अब बन चुकी है एडल्ट फिल्म स्टार
'ड्रीम गर्ल' ने बिकनी पहन पूल किनारे दिखाया अपना बोल्ड लुक, तस्वीरें देख फैन्स के उड़े होश
नोबेल पुरस्कार पाने वाले अभिजीत बनर्जी से पहले इन भारतीयों को भी मिल चुका है यह प्रतिष्ठित पुरस्कार
आप भी जान लीजिये, इन 5 चीजों के बिना अधूरा माना जाता है करवा चौथ का व्रत
बदल गया आईसीसी का नियम, फाइनल व सेमीफाइनल में किसी टीम की जीत तक जारी रहेगा सुपर ओवर
स्ट्रेचिंग के फायदे बताते हुए मलाइका ने जिम में लगाया हुस्न का तड़का, शेयर की तस्वीरें
साउथ के सुपरस्टार महेश बाबू ने अपनी नई फिल्म "सरिलरु नीकेवरु" को लेकर किये कई खुलासे
अपने गंजे बॉयफ्रेंड को टाइगर श्रॉफ की बहन ने किया किस, सोशल मीडिया पर तस्वीरें हो रही है वायरल
बॉलीवुड के ये 7 सुपरस्टार्स हैं इन मशहूर कंपनियों के मालिक, नंबर 1 हैं सबसे लोकप्रिय
फिल्म की शूटिंग के दौरान प्रोड्यूसर को ही दिल दे बैठी थी ये अभिनेत्री, अब सेट पर नजर आई अकेले
Bigg Boss 13: एलिमिनेट होते ही दलजीत ने खोली बिग बॉस की पोल, इन तीन को बताया नकली
जापान में आये भीषण तूफ़ान हगिबीस से निपटने के लिए भारतीय नौसेना ने मदद को भेजे 2 युद्धपोत
करवाचौथ उपाय : करवा चौथ का चन्द्रमा देखने से पहले गलती से भी ना करें ये 5 गलतियाँ
मेसी ने किया साफ़ बार्सिलोना छोड़ने का नहीं है कोई इरादा, पूरे करियर में इसी क्लब से खेलूंगा
About the author

Bharath has been the knowledge focal point for the world, As Darvin evolution formula End is the Start ... Bharath again will be the Knowledge Focal Point to the whole world. Want to hold the lamp and shine light on the path of greatness for our country Bharath.